Principal Massage

प्रिय विद्यार्थियों,
आपने फार्मेसी विज्ञान में रूचि प्रदर्षित की है। इसके लिये सर्वप्रथम आपको हार्दिक बधाई । फार्मेसी विज्ञान के प्रति आपकी रूचि के संदर्भ में हम आपको प्रारंभिक जानकारी देनें का प्रयास कर रहें हैं। फार्मेसी विज्ञान, विज्ञान की वह शाखा है जिसमें औषधि निर्माण के समस्त अवयवों के बारे में शिक्षा दी जाती है। फार्मेसी विज्ञान को प्राथमिक रूप से चार भागों में बांटा गया है।

  • फार्मास्युटिक्स - औषधि निर्माण
  • फार्मास्युटिकल केमेस्ट्री - औषधि रसायन
  • फार्माकोलाॅजी - औषधियों के प्रभाव
  • फार्माकोग्नोसी - वनस्पति से प्राप्त औषधियाॅ

फार्मेसी विज्ञान का डिप्लोमा दो वर्षो में प्राप्त करने के पश्‍चात व्यवसाय के निम्न अवसर प्राप्त हो सकते है -

  • फार्मेसी एजुकेशन
  • केन्द्र/राज्य में फार्मासिस्ट
  • ड्रग स्टोर/फैक्ट्री /रिपैकिंग
  • मेडिकल रिप्रजेंटेटिव (सेल्स एण्ड मार्केटिंग)

डी. फार्मा करने के पश्चात बी. फार्म. करने वाले विद्यार्थियों को एक वर्ष की छूट मिलती है। (सीधे बी. फार्म. द्वितीय वर्ष ( लेटेरल इन्ट्री ) में प्रवेष मिलता है।) बी. फार्म.-चार वर्ष का पाठ्यक्रम होता है। लेकिन डी. फार्म. करने वाले विद्यार्थियों को एक वर्ष की छूट मिलती हैै। तत्पश्‍चात एम.फार्म के उपर्युक्त चारों विषयों में 2 वर्ष का पाठ्यक्रम है एवं तत्पश्‍चात पी.एच.डी. दो से पांच वर्षो के अंतराल में इन्ही चारों विषयों में की जा सकती है। डी. फार्मा के पश्‍चात विदेशों में उच्च शिक्षा के लिये भी प्रयत्न किया जा सकता है । जहाॅं से एम.एस. एवं पी. एच.डी. की डिग्री प्राप्त की सकती है। शिक्षा ग्रहण करने के पश्‍चात् विद्यार्थी निम्न तीन मुख्य धारओं में अपना भविष्य बना सकते हैं -

  • शिक्षा
  • उत्पादन
  • नियंत्रण

शिक्षा के क्षेत्र में सरकारी एवं गैर सरकारी डिप्लोमा महाविद्यालय, विश्‍वविद्यालयीन विभागों में अपना कैरियर चुन सकता है। जहाॅ व्याख्याता, प्रवक्ता, प्राध्यापक एवं प्राचार्य के पदों पर इसी वर्ग से आते है। उत्पादन एवं रिसर्च के क्षेत्र में सरकारी एवं गैर सरकारी संस्थानों, में जो देश एवं विदेशों में कार्यरत है, योेग्यतानुसार एवं इच्छानुसार अपना चयन कर सकते है, इसी के साथ बिक्री का क्षेत्र भी खुलता है तथा स्वयं का उत्पादन एवं विपणन भी किया जा सकता है। तीसरा क्षेत्र नियंत्रण का है जो सरकार के अधीन रहता है इसमें सरकारी प्रयोगशालाएं एवं अन्य संस्थान जिसमें उत्पादन भी शामिल है तथा अन्य एवं औषधि प्रशासन के तत्वधान में दवा निरीक्षण नियंत्रक इत्यादि पदों पर अपना कैरियर चुना जा सकता है। गुलाबकली मेमोरियल काॅलेज आॅफ फार्मेसी, चाकघाट विद्या निकेतन बहुउद्देशीय समिति चाकघाट, जिला रीवा मध्यप्रदेश द्वारा संचालित मध्यप्रदेश में उत्कृष्ट फार्मेसी संस्थान है। इस की स्थापना वर्ष 2005 में हुई है, अपने स्थापना के बाद यह संस्थान उत्तरोत्तर प्रगति की ओर अग्रसर है इस संस्थान के प्रमुख बिन्दु है, विशाल केम्पस, अत्याधुनिक प्रयोगशलाएं, आधुनिक लायब्रेरी, कम्प्यूटर्स, स्पोर्टस सुविधा इत्यादि है। इस संस्थान में जैसा कि ऊपर लिखा जा चुका है, विद्यार्थियों को उनके उज्जवल भविष्य के बारे में पूर्ण मार्गदर्षन एवं दिशा- निर्देश यथा समय व यथा संभव दिये जायेगे तथा संभवतः उनकी नौकरी एवं उच्चशिक्षा के लिये समय - समय पर मदद की जाएगी। फार्मेसी विज्ञान में आपकों अपना कैरियर चुनने का अवसर प्राप्त हो।

आपके उज्जवल भविष्य की शुभकामनाओं के साथ
प्राचार्य

E-mail ID- principal088@gmail.com

Latest New's
Admission open..Session 2018-19